गुजरात मे आयोजित नेशनल कॉन्फ्रेंस में मंत्री मदन सहनी ने बिहार में 20 हज़ार नए आंगनबाड़ी केंद्र खोले जाने की मांग की।

0
1066

बिहार / पटना : बिहार के समाज कल्याण मंत्री मदन सहनी बीतें दिनों गुजरात के केवडिया में आयोजित महिला एवं बाल विकास मंत्रालय के दो दिवसीय राष्ट्रीय कॉन्फ्रेंस में शामिल हुए। मंत्री मदन सहनी के डेलिगेशन में बिहार से उत्कर्ष किशोर, श्वेता सहाय एवं डॉ. मनोज बिहार के प्रतिनिधि के रूप में शामिल हुए।

Utkarsh Kishore with Madan Sahni

भारत सरकार के महिला एवं बाल विकास मंत्रालय के 2 दिवसीय राष्ट्रीय कॉन्फेंस में शामिल हुए बिहार सरकार के समाज कल्याण मंत्री मदन सहनी। गुजरात के केवडिया में सरदार पटेल की धरती पर कार्यक्रम का आयोजन हुआ

मंत्री मदन सहनी ने केंद्रीय मंत्री श्रीमती स्मृति ईरानी से बिहार में नए बीस हज़ार आंगनवाड़ी केंद्र खोलने के लिए भारत सरकार से सहयोग मांगा हैं। वही राष्ट्रीय अधिवेशन में पोषण माह का शुरुवात किया गया। जहां बिहार राज्य को पोषण 1 में टॉप 5 में स्थान मिलने पर बिहार सरकार के कार्यो को सराहा गया। वही मंत्री मदन सहनी ने केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी को बिहार की शान मिथला पेंटिंग युक्त शाल एवं अंगवस्त्र भेंट की।

राष्ट्रीय पोषण माह के तहत केन्द्रीय महिला एवं बाल विकास मंत्रालय ने दो दिवसीय कांफ्रेंस में भाग लेने आई केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने कहा कि स्टेच्यू ऑफ यूनिटी महज एक स्मारक भर नहीं है। यह विश्व के सबसे बड़े लोकतंत्र के लिए नागरिकता के मार्ग का प्रेरणास्रोत है। कांफ्रेंस के उदघाटन के साथ ही उन्होंने स्टेच्यू ऑफ यूनिटी का नजारा लिया और पौधारोपण किया।

केवडिया आई केंद्रीय मंत्री ने विश्व की सबसे उंची प्रतिमा स्टेच्यू ऑफ यूनिटी को देखने के बाद उसे लोगों के लिए प्रेरणा का स्रोत बताया। उन्होंने कहा की जब देश का प्रत्येक व्यक्ति सरदार साहब से प्रेरणा लेकर उनका अनुकरण करेगा, तभी मजबूत, संवेदनशील और जीवंत राष्ट्र की परिकल्पना पूरी होगी। स्टेच्यू की छत्रछाया में मुक्ति व गर्व की अनूभूति होती है। एकता में श्रेष्ठता का यह सही मायने में उत्तम प्रतीक है।

केंद्रीय मंत्री ने दिया आश्वासन, अगले हफ्ते ही बिहार को मिलेगा हर संभव मदद।

केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी की ओर से आश्वासन दिया गया हैं कि अगले 1 हफ्ते में बिहार के समाज कल्याण विभाग को केंद्र सरकार से हर संभव मदद किया जायेगा। साथ ही 3 दिनों में भारत सरकार एवं बिहार सरकार के मंत्री एवं वरिष्ठ अधिकारियों की VC के माध्यम से बैठक बुलाया जाएगा।