टीचर्स ऑफ बिहार ने सरकारी स्कूल के बच्चों के लिए लॉकडाउन में प्रारंभ किया ऑनलाइन क्लास।

0
1389

पटना : सरकारी स्कूल के हजारों बच्चे टीचर्स ऑफ बिहार के फेसबुक ग्रुप “स्कूल ऑन मोबाइल” से जुड़कर प्रतिदिन करते हैं ऑनलाइन क्लास।

Hiring Medicine Adv
vHiring Medicine Adv

बिहार की सबसे बड़ी प्रोफेशनल लर्निंग कम्युनिटी टीचर्स ऑफ बिहार के फाउंडर शिक्षक शिव कुमार एवं उनकी पूरी टीम के सराहनीय प्रयास से लॉकडाउन में सरकारी विद्यालयों में पढ़ने वाले बच्चों के लिए विद्यालय बंद रहने के बावजूद उनके पठन पाठन पर प्रतिकूल प्रभाव ना परे इसके लिए ऑनलाइन क्लासेज प्रारम्भ कर एक अनूठा पहल किया गया है।
वर्तमान समय में कोरोना महामारी के संक्रमण से बचने के लिए सरकार के द्वारा पूरे राज्य में 15 मई तक स्वास्थ्य कारणों से लॉकडाउन लगाया गया है जिसके कारण सभी सरकारी विद्यालय बंद हैं। इस परिस्थिति में सरकारी विद्यालयों में पढ़ने वाले बच्चों का पढ़ाई बाधित न हो इसके लिए टीचर्स ऑफ बिहार “द चेंज मेकर्स” के स्कूल ऑन मोबाइल ग्रुप के टीम लीडर शिक्षक उमाकांत कुमार के कुशल निर्देशन में बिहार के 40 से भी अधिक प्रशिक्षित एवं अपने-अपने विषय के दक्ष शिक्षकों के दो समूह जिसमें प्रथम समूह “ए” के शिक्षकों के द्वारा सोमवार, बुधवार, शुक्रवार एवं दूसरे समूह “बी” के शिक्षकों के द्वारा मंगलवार, गुरुवार, शनिवार को 01:00 बजे अपराह्न से 04:30 अपराह्न तक निशुल्क ऑनलाइन क्लासेज के माध्यम से कैच अप कोर्स का संचालन किया जा रहा है।
टीचर्स ऑफ बिहार “द चेंज मेकर्स” समूह के सफल क्रियान्वयन में तकनीकी टीम लीडर शिवेंद्र सुमन एवं बिहार के विभिन्न जिले के सरकारी विद्यालयों में पदस्थापित शिक्षक सत्यनारायण साह, राकेश कुमार रंजन, मुदित कुमार, रंजेश कुमार, त्रिपुरारी राय, चंद्रशेखर प्रसाद साहू, विजय सिंह, मृत्युंजयम् आर्या, संजय भार्गव कुमार, अमरेन्द्र कुमार, गणेश तिवारी, शिव भगत, शशिधर उज्ज्वल, नरेश कुमार निराला, सुनील कुमार, शिक्षिका खुशबू कुमारी, नम्रता कुमारी, सुमोना रिंकू घोष, रूबी कुमारी, रोमा कुमारी, ज्योति कुमारी, कुमारी साक्षी, रश्मि चौधरी, कविता कुमारी, दीप्ति अंशु, हेमप्रिया सिंह सहित कई अन्य शिक्षक एवं शिक्षिकाओं का प्रारम्भ से ही सराहनीय योगदान रहा है।
टीचर्स ऑफ बिहार के इस अनूठे पहल का लाभ बिहार के सरकारी विद्यालय में पढ़ने वाले बच्चे इस लॉकडाउन में कैसे लेंगे? इसके बारे में टीम, टीचर्स ऑफ बिहार के सक्रिय सदस्य मुरौल प्रखण्ड स्थित राजकीय बुनियादी विद्यालय बखरी में पदस्थापित प्राथमिक शिक्षक केशव कुमार के द्वारा प्रश्नोत्तरी के माध्यम से बहुत ही सरल शब्दों में बताया गया।

Adv - Munna Bhai
Adv- Munna Bhai
  • क्या है ‘स्कूल ऑन मोबाइल’ 2021?
    स्कूल ऑन मोबाइल प्राइवेट विद्यालयों की तर्ज पर बिहार के सरकारी विद्यालयों के वर्ग पांचवी से दसवीं तक के बच्चों के लिए कैच-अप कोर्स आधारित लाइव कक्षाओं का संचालन एवं ऑनलाइन मूल्यांकन है।
  •  स्कूल और मोबाइल का संचालन कैसे हो रहा है?
    स्कूल ऑन मोबाइल का संचालन बिहार के सबसे बड़े प्रोफेशनल लर्निंग कम्युनिटी टीचर्स ऑफ बिहार “द चेंज मेकर्स” समूह के द्वारा किया जा रहा है। इस कार्यक्रम में ऑनलाइन क्लासेस सरकारी विद्यालय के प्रशिक्षित एवं अपने-अपने विषय के दक्ष शिक्षकों द्वारा लिया जा रहा है।
  •  स्कूल और मोबाइल कार्यक्रम से कैसे जुड़ें?
    इस कार्यक्रम से जुड़ने के लिए टीचर्स ऑफ बिहार के किसी भी सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर विजिट करें अथवा फेसबुक पर सर्च करें School on Mobile
    या आप नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करके भी ग्रुप को ज्वाइन किया जा सकता हैं https://tinyurl.com/SchoolonMobile 
  •  एक शिक्षक के रूप में स्कूल ऑन मोबाइल कार्यक्रम में ऑनलाइन क्लास लेने के लिए क्या करना होगा?
    अगर कोई बिहार के सरकारी विद्यालय के शिक्षक हैं तो उन्हें इस कार्यक्रम में जुड़ने एवं ऑनलाइन कक्षाओं को लेने के लिए नीचे दिए गए फॉर्म को फिल अप करना होगा।
    https://forms.gle/qx6niDiwS1owsPNb8

अधिक जानकारी के लिए शिक्षक केशव कुमार के मोबाईल नम्बर 8969900475 पर संपर्क करे या विजिट करें som.teachersofbihar.org