नीतीश सरकार में मंत्री बनी लेसी सिंह के पास AK-47, 56 और SLR जैसे अत्याधुनिक हथियारका जकिरा, पूर्व IAS ने लिखा डीजीपी को पत्र।

0
3436

● पूर्व IAS अमिताभ दास ने लिखा डीजीपी को पत्र।

● मंत्री पद संभालने के ढाई घंटे में मेवालाल को अमिताभ दास की चिट्‌ठी के कारण ही देना पड़ा था इस्तीफा; अब लेसी पर लिखा लेटर

● नीतीश कुमार को बताया कुख्यात बुटन सिंह का लंगोटिया यार।

विधानसभा चुनाव के बाद नवगठित नीतीश सरकार से जिस पूर्व IPS अफसर के पत्र के कारण मंत्री मेवालाल को मंत्रिमंडल से बाहर किया गया था उसी पूर्व अफसर ने मंगलवार को मंत्री बनीं लेसी सिंह पर भी सवाल उठा दिए। बिहार पुलिस से रिटायर्ड IG अमिताभ दास ने नई नवेली मंत्री लेसी सिंह के बारे में DGP को एक पत्र लिखा है। उनके ऊपर गंभीर आरोप लगाए हैं। अमिताभ दास ने लिखा है कि नीतीश सरकार में मंत्री बनीं लेसी सिंह के ठिकानों पर AK-47, AK-56 और SLR जैसे अत्याधुनिक हथियार छिपाकर रखे गए हैं। इसके बारे में उनके पास पक्की सूचना है। पुलिस को जल्द से जल्द लेसी सिंह के ठिकानों पर छापेमारी करनी चाहिए, उन ठिकानों को पूरी तरह से खंगाला जाना चाहिए। देर किए जाने पर ये हथियार नेपाल भेजे जा सकते हैं। इससे पहले अमिताभ दास ने नवंबर में मंत्री पद की शपथ लेते ही विधायक मेवालाल पर भी गंभीर आरोप लगाए थे। उसके बाद मेवालाल अपनी ही मौत और घोटाले के आरोपों में घिर गए थे। मंत्री की कुर्सी संभालने के महज ढाई घंटे बाद ही उन्हें सरकार से बाहर का रास्ता दिखा दिया गया था।

पति था पूर्णिया का कुख्यात अपराधी

दरअसल, लेसी सिंह के ऊपर गंभीर आरोप लगाने के पीछे अमिताभ दास एक बड़ी वजह बता रहे हैं। रिटायर्ड IG के अनुसार लेसी सिंह का पति बूटन सिंह पूर्णिया का कुख्यात अपराधी था। सीमांचल इलाके का आतंक था। बूटन सिंह के ऊपर हत्या, अपहरण और रंगदारी जैसे गंभीर अपराध के करीब एक दर्जन से अधिक मामले दर्ज थे। इसके बावजूद बूटन सिंह समता पार्टी का पूर्णिया जिलाध्यक्ष था। साल 2000 के अप्रैल में अपराधियों ने ही बूटन सिंह की गोली मारकर हत्या कर दी थी।

Adv - Jaipuria School

पति की हत्या के बाद गिरोह की कमान संभाली

रिटायर्ड IG का दावा है कि पति की हत्या के बाद उसके गिरोह की कमान लेसी सिंह ने खुद ही संभाल ली। इस कारण गिरोह के सारे हथियार लेसी सिंह के ठिकानों पर ही छिपाकर रखे गए हैं। इस इनपुट पर DGP को संज्ञान लेना चाहिए और तेजी से कार्रवाई करवानी चाहिए। साल 2000 में अमिताभ दास पूर्णिया के पड़ोसी जिले किशनगंज में SP थे। अमिताभ दास ने पत्र में यह भी लिखा है कि बूटन सिंह नीतीश कुमार का लंगोटिया यार था।

Aanchal Adv
Aanchal Adv
Vespa -Adv
Vespa -Adv

Srijan Adv

Adv Admission
Adv Admission